बाबा साहब भीमराव अम्बेडकर की 130वीं जयंती पर प्रदेश में कार्यक्रम का आयोजन

638

चंडीगढ़

बाबा साहब डॉ. भीमराव अम्बेडकर की 130वीं जयंती पर पूरे प्रदेश में कार्यक्रम का आयोजन किया गया है. बाबा साहब की प्रतिमा पर माल्यार्पण कर लोगों ने श्रद्धांजलि दी, और बाबा साहब के दिखाए मार्ग पर चलने का संदेश भी दिया. प्रदेश में मुख्यमंत्री के साथ कई दिग्गजों ने बाबा साहब को दी श्रद्धांजलि।

सिरसा

सिरसा में डा. भीमराव अम्बेडकर की 130वीं जयंती पर कार्यक्रम का आयोजन किया गया. अम्बेडकर चौक पर सर्व समाज के लोग एकत्रित हुए और होकर बाबा साहब अमर के नारे लगाए,  कार्यक्रम में जिला उपायुक्त प्रदीप कुमार बतौर मुख्य अतिथि शामिल हुए. उन्होंने बाबा साहब की प्रतिमा पर माल्यार्पण किया. इसके बाद ध्वजारोहण भी किया. इस मौके पर विभिन्न वर्गों के लोगों ने बाबा साहब की प्रतिमा पर माल्यार्पण कर श्रद्धांजलि दी।

उपायुक्त प्रदीप कुमार ने क्या कहा

सिरसा जिला उपायुक्त प्रदीप कुमार ने बताय कि डा. भीमराव अम्बेडकर स्वतंत्र भारत के प्रथम विधि और न्याय मंत्री थे. भारतीय संविधान के जनक और भारत गणराज्य के निर्माताओं में शामिल हैं. उन्होंने अछूतों, श्रमिकों और महिलाओं के अधिकारों का समर्थन किया. उन्होंने कि विश्व का बड़ा संविधान बाबा साहब ने लिखा. इसी पर आज का आधार टीका है. उन्होंने बताया कि बाबा साहब के दिखाए मार्ग पर चलना ही उन्हें सच्ची श्रद्धांजलि होगी. बाबा  साहब के संदेश अनुसार सभी को मिलजुल कर रहना चाहिए।

कुरुक्षेत्र

संविधान निर्माता बाबा साहब भीमराव अंबेडकर के जन्म दिवस, के मौके पर कुरुक्षेत्र के अंबेडकर चौक पर पूर्व मंत्री और कांग्रेस नेता अशोक अरोड़ा ने सैकड़ों समर्थकों के साथ बाबा साहब की प्रतिमा पर पुष्प अर्पित किए, इस मौके पर अशोक अरोड़ा ने लोगों से आह्वान किया, कि बाबा साहब भीमराव अंबेडकर द्वारा दिखाए गए रास्ते पर चलकर लोकतंत्र की रक्षा करें. उन्होंने बताया कि जो 21 साल का युवा वोट डाल सकता था, उसकी शुरुआत बाबा साहब ने ही की थी.

फरीदाबाद

भारतीय संविधान के जनक डॉ. भीमराव अंबेडकर की 130वीं जयंती पर फरीदाबाद के सरकारी विश्वविद्यालय जे.सी. बोस वाईएमसीए में मनाई गई. जहां प्रोफ़ेसर देव प्रसाद भारद्वाज, कुलपति प्रो. दिनेश कुमार के, कुलसचिव डॉ. एस. के. गर्ग और अन्य अधिकारियों ने डॉ. अंबेडकर को पुष्पांजलि अर्पित की प्रोफेसर देव भारद्वाज ने कहा कि बाबा साहब की दिखाई राह पर लोगों को चलना चाहिए, साथ ही उन्होंने कहा कि समाज में झूठ फैला हुआ है, कि डॉक्टर अंबेडकर हिंदू विरोधी थे, जबकि उन्हें कई मुस्लिम देशों से बड़े-बड़े प्रलोभन उनके धर्म को अपनाने के लिए मिले लेकिन उन्होंने मना कर दिया, और भारत देश के लिए कानून बनाया।

भिवानी

भिवानी के पंचायत भवन में बाबा साहब डॉ. भीमराव अंबेडकर जयंती के मौके पर कार्यक्रम का आयोजित किया गया. जिसमें मंत्री जेपी दलाल और बीजेपी अध्यक्ष ओम प्रकाश धनखड़ के साथ सांसद धर्मबीर सिंह भी कार्यकर्म में शामिल रहे।

बल्लभगढ़

बल्लभगढ़ के अंबेडकर चौक पर बाबा साहेब भीमराव अंबेडकर की प्रतिमा पर जेजेपी के जिला अध्यक्ष और अन्य पदाधिकारियों ने फूल माला अर्पण कर, उन्हें याद किया इस मौके पर जेजेपी के जिला अध्यक्ष तेजपाल डागर ने बताया कि आज हम सबको जरूरत है कि बाबा साहब के आदर्शों पर चलने की जरुरत है. और साथ ही साथ अपने जीवन में उनके बताए गए रास्तों को अपनाने की भी जरुरत है।

कैथल

बाबा साहब भीमराव अंबेडकर राजकीय महाविद्यालय में बाबा साहब की जयंती पर कार्यक्रम का आयोजन किया गया. डॉक्टर भीमराव अंबेडकर की जयंती मनाई गई. कॉलेज के मेन गेट के सामने सैकड़ों की संख्या में किसान मौजूद रहे. किसानों ने बताया कि अगर कोई नेता मूर्ति का अनावरण करेगा, तो हम उसका विरोध करेंगे और अगर जिला प्रशासन का कोई नुमाइंदा मूर्ति का अनावरण करेगा, तो हम जयंती उनके साथ बड़ी धूमधाम से मनाएंगे. किसानों ने कहा कि बाबा साहब भीमराव अंबेडकर हम सब के बाबा है।