Sonali Phogat की बहन रुकेश संभालेगी राजनीतिक विरासत, महापंचायत में हुआ फैसला

224
Sonali Phogat
Sonali Phogat

इंडिया न्यूज, Haryana News (Sonali Phogat): हरियाणा की भाजपा नेता सोनाली फोगाट की मौत को करीब एक महीना बीत चुका है लेकिन उनकी हत्या एक रहस्या बनी हुई है। वहीं सोनाली हत्याकांड मामले में आज हिसार में महापंचायत हुई। जिस दौरान पंचायत में फैसला लिया गया कि सोनाली की बहन रुकेश ढाका उनकी राजनीतिक विरासत संभालेगी। वहीं 23 अक्टूबर को आदमपुर में महापंचायत करने का फैंसला भी लिया गया है। जहां उनकी भविष्य राजनीतिक का फैंसला लिया जाएगा।

सोनाली की हत्या को परिजन बता रहे राजनीतिक षड्यंत्र 

सानाली फोगाट हत्याकांड मामले में आज हिसार की जार धर्मशाला में महापंचायत का आयोजित की गई। इस महापंचायत में हरियाणा की खाप पंचायतो के प्रतिनिधियों ने हिस्सा लिया। आदमपुर उपचुनाव से पहले सोनाली की हत्या को लेकर परिजन इसे राजनीतिक षड्यंत्र बता रहे है। इसे लेकर आदमपुर से पूर्व विधायक व भाजपा नेता कुलदीप बिश्नोई से भी स्पष्टीकरण मांगा गया है।

किसान अंदोलन के दौरान सोनाली द्वारा किसानों को लेकर दिए गए बयानों को लेकर सोनाली के परिजनों ने खाप प्रतिनिधियों से माफी मांगी। इसी के साथ सोनाली की बहन ने उनकी जगह राजनीति में कदम रखने की इच्छा जाहिर की है। परिजनों ने महापंचायत में बताया कि अब सोनाली की बहन रुकेश ढाका ही उनकी राजनीतिक विरासत को संभालेंगी। इसके बाद फैसला लिया गया कि 23 अक्टूबर को आदमपुर में एक महापंचायत आयोजित की जाएगी।

सोनाली की बहन संभालेगी राजनीतिक विरासत 

भाजपा नेता सोनाली फोगाट हत्याकांड मामले में हिसार में महापंचायत हुई। इस पंचायत में फैसला हुआ कि सोनाली की बहन रुकेश ढाका अब भाजपा नेता की राजनीतिक विरासत संभालेगी। इसी के साथ आदमपुर में 23 अक्टूबर को एक बड़ी महापंचायत करने का निर्णय भी लिया गया है।

23 अगस्त को हुई थी सोनाली की मौत

जैस की आप सब को पता है कि सोनाली की मौत गोवा के होटल में 23 अगस्त को हुई थी। पहले सोनाली की मौत की वजह हार्ट अटैक बताई गई। लेकिन कुछ देर बाद ही परिजनों ने हत्या का आरोप लगाकर जांच की मांग की। लेकिन गोवा पुलिस ने इस मामल को हत्या मानने से इन्कार कर दिया और 2 दिन तक शव का पोस्टमार्टम नहीं करवाया।

सोनाली के परिजन गोवा पुलिस की जांच से पहले ही संतुष्ट नहीं थे। परिजन शुरू से ही सीबीआई जांच की मांग कर रहे थे। गोवा पुलिस मामले को प्रॉपर्टी व ड्रग्स एंगल से जोड़कर जांच करती रही। जांच सोनाली के पीए सुधीर सांगवान व प्रॉपर्टी एंगल से भी की गई है।

बता दें कि सोनाली की बेटी व परिजनों ने हरियाणा के मुख्यमंत्री से मिलकर सीबीआई जांच के लिए गुहार लगाई थी। इसके बाद मामले की सीबीआई जांच न होने पर ढाका खाप के लोगों ने खापों की महापंचायत बुलाई थी। जिसके बाद गोवा के मुख्यमंत्री ने मामले की सीबीआई जांच की सिफारिश कर दी थी।

ये भी पढ़ें : Devi Lal Jayanti : इनेलो की ‘सम्मान दिवस रैली’ कल, तैयारियां जोरों पर

ये भी पढ़ें : Farmers Protest Update : खरीद का आश्वासन मिला, किसानों ने खोला जाम

Connect With Us: Twitter Facebook