Deepender Hooda on Terrorism : सरकार आतंकवाद को उसी भाषा में जवाब दे : दीपेन्द्र हुड्डा

11
Deepender Hooda on Terrorism
सरकार आतंकवाद को उसी भाषा में जवाब दे : दीपेन्द्र हुड्डा

India News Haryana (इंडिया न्यूज), Deepender Hooda on Terrorism : सांसद दीपेन्द्र हुड्डा ने अखिल भारतीय कांग्रेस कमेटी मुख्यालय पर प्रेस वार्ता को संबोधित करते हुए सरकार से आतंकवाद को उसी की भाषा में जवाब देने की मांग की है। उन्होंने कहा कि सरकार आतंकवाद से लड़ने के लिये जो भी कदम उठायेगी उसके साथ सभी राजनीतिक दल और देशवासी मजबूती से खड़े रहेंगे। कांग्रेस पार्टी हमेशा जिम्मेदार विपक्ष के रूप में सरकार का सहयोग करने के लिये तत्पर हैं।

Deepender Hooda on Terrorism : शहीद सैनिकों की शहादत को नमन किया

सांसद दीपेंद्र हुड्डा ने कठुआ में हुए आतंकी हमले में मातृभूमि के लिये सर्वोच्च बलिदान देने वाले शहीद सैनिकों की शहादत को नमन किया। उन्होंने कहा कि चिंता की बात है कि जिस क्षेत्र में हमेशा शांति रही, आज वो क्षेत्र आतंकी हमलों की चपेट में आ गया है। जम्मू में पहली बार ऐसी स्थिति बनी है। सरकार इसका संज्ञान ले और सबको विश्वास में लेकर देश की सुरक्षा के लिये सभी आवश्यक कदम उठाए। हमारे लिये देश हित और देश की सुरक्षा सर्वोपरि है।

बढ़ती आतंकी घटनाओं पर चिंता जाहिर की

उन्होंने जम्मू क्षेत्र में बढ़ती आतंकी घटनाओं पर चिंता व्यक्त करते हुए कहा कि एक महीने के अंदर ये पांचवां आतंकी हमला है। सरकार को इन घटनाओं को गंभीरता से लेना चाहिए। पहली बार ऐसा दिखायी दे रहा है कि जम्मू क्षेत्र के दक्षिण में पीर पांजाल क्षेत्र के कठुआ, रियासी, जम्मू, डोडा, कुलगाम को आतंकवादियों ने अपनी हरकतों का नया केंद्र बनाया है। जबकि जम्मू-कश्मीर के लोग शांति चाहते हैं।

इसका स्पष्ट प्रमाण ये है कि लोकसभा चुनाव में 58 प्रतिशत लोगों ने अपना मत डालकर लोकतांत्रिक प्रक्रिया में अपनी भागीदारी की। उन्होंने कहा कि सैन्य विशेषज्ञों का स्पष्ट तौर से मानना है कि आतंकी कश्मीर घाटी से ध्यान हटाकर पीर पंजाल रेंज के दक्षिण में जम्मू क्षेत्र पर ध्यान केंद्रित कर रहे हैं। इसका प्रमुख कारण ये है कि लद्दाख क्षेत्र में सैन्य तैनाती की वजह से जम्मू क्षेत्र में सैन्य तैनाती में कमी आयी है। सरकार को पहले से ही सचेत रहना चाहिए था। सरकार इस मामले में जमीनी सच्चाई को लेकर उतनी गंभीर नहीं है।

दीपेन्द्र हुड्डा ने कई प्रमुख आतंकी घटनाओं का जिक्र करते हुए कहा कि 2023 में आतंकी हमलों में मारे गए आम नागरिक और सुरक्षा बल का प्रतिशत 48% था, जो अब तक का सबसे अधिक है, यानी 2004 के 46% से भी अधिक। कुल हताहतों का प्रतिशत उसी स्तर पर हैं जो 20 साल पहले एनडीए-1 के समय में थे। जबकि यूपीए सरकार के समय हताहतों की कुल संख्या में काफी कमी आई थी।

दीपेन्द्र हुड्डा ने लोकसभा में नेता प्रतिपक्ष राहुल गांधी की बात दोहराते हुए कहा कि लगातार हो रहे आतंकी हमलों का हल कठोर कार्रवाई से होगा, न खोखले वादों से न झूठे भाषणों से होगा। दक्षिण एशियाई आतंकवाद पोर्टल के आंकड़ों का हवाला देते हुए दीपेन्द्र हुड्डा ने यह भी कहा कि आंकड़े बताते हैं कि जम्मू क्षेत्र में 2023 के बाद आतंकी घटनाओं में आम नागरिकों और सुरक्षा बलों के शहीदों की संख्या दोगुनी हुई है।

यह भी पढ़ें : Bus Pass Facility For Students : हरियाणा के छात्रों को अब 150 किलोमीटर तक मिलेगी बस-पास सुविधा 

यह भी पढ़ें : Daulatabad Dumping Station : जवाहर यादव के साथ दौलताबाद में बने डंपिंग ग्राउंड को लेकर मुख्यमंत्री से मिले ग्रामीण