Murder In Mahendragarh : महेंद्रगढ़ में युवक को कुएं पर पानी पीना पड़ा महंगा, कुएं के मालिक ने कर दी हत्या 

148
Murder In Mahendragarh
महेंद्रगढ़ में युवक को कुएं पर पानी पीना पड़ा महंगा, कुएं के मालिक ने कर दी हत्या 
  • युवक ने पानी पीने के लिए जैसे ही मटके को हाथ लगाया तो जितेंद्र ने किरोड़ी को जाति सूचक गालियां दी
  • कहा तेरी हिम्मत कैसे हुई हमारे पानी के मटके को हाथ लगाने की
India News (इंडिया न्यूज), Murder In Mahendragarh : महेंद्रगढ़ जिले के सेहलंग गांव में रविवार देर रात्रि समय कुएं पर पानी पीने के लिए गए शख्स को कुएं के मालिक ने पीटकर गंभीर रूप से घायल कर दिया, सोमवार को इलाज के दौरान उसकी मौत हो गई। मृतक के बड़े भाई की शिकायत पर पुलिस ने आरोपी के खिलाफ मामला दर्ज कर जांच शुरू कर दी है। वहीं पुलिस ने शव का पोस्टमार्टम कराने के बाद शव को परिजनों को सौंप दिया है। फिलहाल पुलिस इस मामले की जांच में जुटी हुई है।

Murder In Mahendragarh : कुएं पर किरोड़ी घायल अवस्था में पड़ा था

गांव सेहलंग निवासी महेंद्र सिंह ने पुलिस में दी शिकायत में बताया कि रविवार रात्रि करीब 9:30 बजे उसका छोटा भाई किरोड़ी उसे प्लाट पर सोने की बात कहकर घर से निकला था। सोमवार सुबह जितेंद्र उर्फ टुना अशोक के घर पर आया और बताया कि उसके कुएं पर किरोड़ी घायल अवस्था में पड़ा हुआ है, उसे उठा लो। जब वो और उसका बेटा अशोक मौके पर पहुंचे तो वहां पर किरोड़ी गंभीर रूप से घायल अवस्था में पड़ा हुआ था, और उसके शरीर से बहुत ज्यादा खून बह रहा था।

इलाज के दौरान उसकी मौत हो गई

जब अशोक ने अपने भाई से पूछा कि उसकी ये हालत किसने की है। तो उसने बताया कि रात को वो अपने प्लाट से जितेंद्र उर्फ टुना के कुएं पर पानी पीने के लिए गया था। जितेंद्र उर्फ टुना वहीं पर था। जब किरोड़ी ने पानी पीने के लिए मटके को हाथ लगाया तो जितेंद्र ने किरोड़ी को जाति सूचक गालियां दी और कहा तेरी हिम्मत कैसे हुई हमारे पानी के मटके को हाथ लगाने की। ये कहकर उसने अपनी कोठड़ी में से लोहे की राड निकालकर बुरी तरह से मारा पीटा और मेरे हाथ पांव तोड़ दिए। जिसके बाद मौके पर गांव के सरपंच को घटना की सूचना दी और एंबुलेंस को बुलाकर किरोड़ी को सरकारी अस्पताल लेकर गए। जहां इलाज के दौरान उसकी मौत हो गई।