Jat Movement : प्रदेश में 24 फरवरी को फिर होगा जाट आरक्षण आंदोलन

52
Jat Movement
प्रदेश में 24 फरवरी को फिर होगा जाट आरक्षण आंदोलन

India News (इंडिया न्यूज़), Jat Movement, चंडीगढ़ : किसान आंदोलन की चर्चा जहां पूरे देश में हो रही है। इसी बीच अब प्रदेश में 24 फरवरी को जाट भी आरक्षण को लेकर प्रदर्शन करने जा रहे हैं। आंदोलन को लेकर किसान नेता एवं पब्लिक वाइस के राष्ट्रीय अध्यक्ष रमेश दलाल की अगुवाई में 10 सूत्रीय मांगों के साथ झज्जर के मांडोठी-आसौदा टोल पर रणनीति बनाकर आगे मंथन किया जाएगा, वहीं आंदोलन के दौरान समगोत्र विवाह को अवैध करार देने पर भी विचार किया जाएगा। पब्लिक वाइस संगठन द्वारा मांगों को लेकर इस बार आर-पार का आंदोलन किया जाएगा।

जाट आरक्षण आंदोलन में दर्ज मुकदमे वापस लेने की भी मांग

किसान नेता रमेश दलाल ने दादरी में प्रेस वार्ता कर कहा कि पब्लिक वाइस संगठन के आह्वान पर हरियाणा में जाटों को आरक्षण दिलाने के लिए फिर से एकत्रित होंगे जिसकी शुरुआत झज्जर के मांडोठी-असौदा टोल से शुरू की जाएगी। उन्होंने हरियाणा के जाटों को सरकार द्वारा पाकिस्तानी समझकर मांगें पूरी नहीं करने का आरोप लगाया। दलाल ने कहा कि साल 2016 में हुए जाट आरक्षण आंदोलन में दर्ज मुकदमे वापिस लेने को लेकर भी आंदोलन में शामिल किया जाएगा।

वहीं उन्होंने 13 फरवरी को किसान आंदोलन पर कहा कि कुछ किसान संगठन केवल अपने स्वार्थ को लेकर संयुक्त किसान मोर्चा से दूरी बनाकर अपना काम कर रहे हैं। आंदोलन में न तो सभी किसान संगठन शामिल हैं और न ही पंचायत खापें।

यह भी पढ़ें : Farmers Protest Effect : प्रदेश में इंटरनेट सेवा कई दिनों तक रह सकती है बंद

यह भी पढ़ें : Section 144 in Delhi : किसान आंदोलन के चलते दिल्ली में 1 माह के लिए धारा 144 लागू

यह भी पढ़ें : Farmers Protest Live Updates : किसानों और केंद्र में बातचीत आज, वार्ता बेनतीजा निकली तो बिगड़ सकते हैं हालात!

यह भी पढ़ें : Farmers Protest : हरियाणा के 15 जिलों में धारा-144 लगाई