Lok Sabha Elections in Haryana : हरियाणा में 20187091 मतदाता 25 मई को करेंगे 223 कैंडिडेट्स के भविष्य का फैसला

104
Lok Sabha Elections in Haryana
हरियाणा में 20187091 मतदाता 25 मई को करेंगे 223 कैंडिडेट्स के भविष्य का फैसला
  • चुनाव में 96 हजार से ज्यादा अधिकारी व कर्मचारी पोलिंग ड्यूटी पर
  • प्रदेश में कुल 20031 मतदान केंद्र बनाए गए
India News (इंडिया न्यूज), Lok Sabha Elections in Haryana : हरियाणा में आज सभी 10 लोकसभा सीटों पर चुनाव है। 24 मई को शाम पांच बजे प्रचार का पहिया थम जाने के बाद सभी सियासी दल डोर टू डोर कैंपेनिंग कर रहे हैं। वहीं दूसरी निर्वाचन आयोग ने शांतिपूर्ण और निष्पक्ष चुनाव के कंडक्ट के लिए तमाम तैयारियां शुरु कर दी हैं। आयोग के निर्देशानुसार 24 मई को दोपहर सभी पोलिंग पार्टियों संबंधित जगहों पर पहुंचना शुरु हो गई। बता दें कि चुनाव में 96 हजार से ज्यादा अधिकारी व कर्मचारी पोलिंग डयूटी पर हैं।  प्रदेश में कुल 20031 मतदान केंद्र बनाए गए, जिनमें से शहरी क्षेत्रों में 5470 और ग्रामीण एरिया में 14342 केंद्र हैं।

Lok Sabha Elections in Haryana : हरियाणा में 20187091 वोटर्स

18वी लोकसभा आम चुनाव के छठे चरण में हरियाणा में सभी 10 लोकसभा सीटों पर मतदान निर्धारित हैं जिसमें  ताजा जारी आधिकारिक आंकड़ों अनुसार प्रदेश में  मतदाताओं की कुल संख्या 20187091 है जिसमें 10652345 पुरुष मतदाता जबकि 9423956 महिला मतदाता हैं, वही प्रदेश भर में 467 ट्रांसजेंडर मतदाता‌ एवं 111143 सर्विस मतदाता‌ हैं। प्रदेश में दिव्यांग मतदाताओं की  कुल संख्या 150277  जबकि ओवरसीज मतदाताओं की संख्या 762 है। बता दें कि  इसी वर्ष 1 जनवरी 2024 की योग्यता तिथि के आधार   22 जनवरी 2024 को प्रकाशित आंकड़ों अनुसार  हरियाणा में कुल 19834602 मतदाता थे।। इस लिहाज से जनवरी 2024 से 6  मई, 2024 तक पूरे प्रदेश में 353309 मतदाता बढे हैं।

चुनाव में 35 हजार पुलिस कर्मी, 12 पैरामिलिट्री फोर्स कंपनी और 25 हजार होमगार्ड तैनात

लोकसभा चुनाव के लिए हरियाणा पुलिस के 35 हज़ार से अधिक पुलिसकर्मी (एसपीओ सहित), पैरामिलिट्री फोर्स की 112 कंपनियां, 24 हजार से अधिक होमगार्ड के जवान तैनात रहेंगे। इस दौरान कानून व्यवस्था बनाए रखने के लिए अंतर्राज्यीय(इंट्रा स्टेट) तथा अंतरराज्यीय(इंटर स्टेट) सीमाओं पर कुल 300 नाके लगाए जाएंगे। प्रदेश में मतदान के लिए 10 हजार 343 स्थानों पर कुल 20 हजार 6 मतदान केन्द्र स्थापित किए गए हैं।
इसके अलावा, 1362 स्थानों पर 3033 मतदान केन्द्रो को संवेदनशील(क्रिटिकल) माना गया है तथा 51 मतदान केन्द्रों को वल्नरेबल माना गया है।इन मतदान केन्द्रों पर अतिरिक्त पुलिस बल तैनात रहेगा। इसके साथ ही प्रदेश में 418 फ्लाइंग स्क्वायड टीम, 415 स्टेटिक सर्विलांस टीम तथा 34 क्विक रिस्पांस टीम बनाई गई है। प्रदेश में कानून व्यवस्था सुनिश्चित करने तथा आदर्श आचार संहिता की पालना सुनिश्चित करने को लेकर 1039 पेट्रोलिंग पार्टी भी लगाई गई है जो दिन रात गश्त कर रही है।

223 कैंडिडेट लड़ रहे हैं चुनाव

नामांकन पत्र वापस लेने की प्रक्रिया के बाद अब राज्य में लोकसभा-2024 चुनाव के लिए कुल 223 उम्मीदवार चुनाव लड़ रहे हैं, जिनमें 207 पुरुष और 16 महिला उम्मीदवार शामिल हैं। इसके अलावा करनाल विधानसभा सीट पर भी उपचुनाव होगा, जिसके लिए अब कुल 9 उम्मीदवार चुनावी मैदान में हैं,
अंबाला लोकसभा क्षेत्र में कुल 14 उम्मीदवार हैं, जिनमें 12 पुरुष और 2 महिला उम्मीदवार शामिल हैं। इसी प्रकार, कुरूक्षेत्र लोकसभा क्षेत्र में कुल 31 उम्मीदवार हैं, जिनमें 30 पुरुष और 1 महिला उम्मीदवार शामिल हैं। सिरसा लोकसभा क्षेत्र में 19 उम्मीदवार (18 पुरुष और 1 महिला उम्मीदवार), हिसार लोकसभा क्षेत्र में 28 उम्मीदवार (25 पुरुष और 3 महिला), करनाल लोकसभा क्षेत्र में कुल उम्मीदवार हैं 19 उम्मीदवारों में से (17 पुरुष और 2 महिला) और सोनीपत लोकसभा क्षेत्र में 22 उम्मीदवार (पुरुष) हैं।
रोहतक लोकसभा क्षेत्र में कुल 26 उम्मीदवार (24 पुरुष और 2 महिला), भिवानी-महेंद्रगढ़ लोकसभा क्षेत्र में 17 उम्मीदवार (15 पुरुष और 2 महिला), गुरुग्राम लोकसभा क्षेत्र में 17 उम्मीदवार (15 पुरुष और 2 महिला) हैं। 23 उम्मीदवार (22 पुरुष और 1 महिला) हैं, और फरीदाबाद लोकसभा क्षेत्र में कुल 24 उम्मीदवार (22 पुरुष और 2 महिला) हैं। इसके अतिरिक्त, करनाल विधानसभा सीट के लिए 9 उम्मीदवार (पुरुष) हैं। हरियाणा में लोकसभा सीटों और करनाल विधानसभा उपचुनाव के लिए भी 25 मई को मतदान होगा।

45575 ईवीएम मशीनों का होगा इस्तेमाल, 26040 मतदान केंद्र बनाए गए

लोकसभा आम चुनाव और करनाल विधानसभा क्षेत्र के उपचुनाव के लिए राज्य में कुल 45,576 ईवीएम (बैलट यूनिट) का उपयोग किया जाएगा। इसके साथ ही 24,039 कंट्रोल यूनिट और 26,040 वीवीपैट मशीनों का इस्तेमाल किया जाएगा. वीवीपैट में मतदाता अपने द्वारा दिये गये वोट को देख सकता है। इसके अलावा राज्य में कुल 20,031 मतदान केंद्र बनाए गए हैं, इनमें 19,812 स्थायी और 219 सहायक मतदान केंद्र शामिल हैं। शहरी क्षेत्रों में 5,470 मतदान केंद्र और ग्रामीण क्षेत्रों में 14,342 मतदान केंद्र बनाए गए हैं।
उन्होंने बताया कि 176 आदर्श मतदान केंद्र बनाये गये हैं. 99 मतदान केंद्र ऐसे हैं जिनका संचालन पूरी तरह से महिला कर्मचारियों द्वारा किया जाएगा। इसके अलावा, 96 मतदान केंद्र युवा कर्मचारियों द्वारा संचालित हैं, और 71 मतदान केंद्र विकलांग व्यक्तियों (पीडब्ल्यूडी) कर्मचारियों द्वारा संचालित हैं। सभी मतदान केंद्रों पर गर्मी को देखते हुए सभी बुनियादी सुविधाएं एवं अन्य आवश्यक व्यवस्था की गयी हैं। साथ ही राज्य में कुल 44 स्थानों पर 91 मतगणना केंद्र बनाए गए हैं।

85 साल से ज्यादा आयु के मतदाताओं को घर पर वोट डालने की सुविधा

राज्य में 85 वर्ष से अधिक उम्र के मतदाताओं और दिव्यांग मतदाताओं की सुविधा के लिए घर से वोट डालने का प्रावधान किया गया है। इसके लिए विभाग के कर्मचारी 12डी फॉर्म भरवाकर मतदाता की सहमति लेते हैं। 9024 फॉर्म 12डी को रिटर्निंग अधिकारियों ने मंजूरी दे दी है. इनमें से 8324 यानी करीब 92 प्रतिशत मतदाताओं ने वोट डाला और विभाग के कर्मचारियों ने उनके डाक मतपत्र एकत्र कर लिये।
मतदाताओं को शादी जैसे निमंत्रण भेजकर वोट देने की अपील की जा रही है। इस बार वोटिंग प्रतिशत बढ़ाने के लिए अनोखी पहल की गई है, जिसके तहत मतदाताओं को शादी की तरह निमंत्रण पत्र भेजे जा रहे हैं। करीब 50 लाख निमंत्रण कार्ड छपवाए गए हैं। बीएलओ हर परिवार को मतदाता पर्ची के साथ यह निमंत्रण पत्र दे रहे हैं। 25 मई को सुबह 7 बजे से शाम 6 बजे तक वोटिंग होगी।