Badrinath Dham : केदारनाथ के बाद अब बद्रीनाथ धाम के कपाट भी खुले

40
Badrinath Dham
केदारनाथ के बाद अब बद्रीनाथ धाम के कपाट भी खुले
  • उत्तराखंड के मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी ने तीर्थयात्रियों को दी शुुभकामनाएं

India News (इंडिया न्यूज), Badrinath Dham : गत दिनों बाबा केदारनाथ के कपाट खुलने के बाद अब वैदिक मंत्रों और उच्चारण के साथ आज बद्रीनाथ धाम के कपाट भी खोल दिए गए हैं जिससे श्रद्धालुओं में विशेष उत्साह है। हजारों श्रद्धालु इस पावन पल के साक्षी बने। वहीं, उत्तराखंड के मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी ने भी तीर्थयात्रियों को धाम के कपाट खुलने की शुभकामनाएं दी।

धाम को 15 क्विंटल फूलों से सजाया गया

वहीं मुख्य पुजारी वीसी ईश्वर प्रसाद नंबूदरी ने गर्भगृह में भगवान बद्रीनाथ की विशेष पूजा-अर्चना करते हुए सबके मंगल की कामना की। कपाट खुलने के मौके पर श्री बद्रीनाथ पुष्प सेवा समिति ऋषिकेश के सहयोग से आस्था पथ से लेकर धाम को आर्किड और गेंदे के 15 क्विंटल फूलों से सजाया गया है। उत्तराखंड के चारधामों की यात्रा यमुनोत्री धाम से शुरू होती है, जो गंगोत्री और केदारनाथ होते हुए बद्रीनाथ धाम पहुंचती है। यमुनोत्री, गंगोत्री और केदारनाथ के कपाट 10 मई को खोले गए हैं।

रावल ने बद्रीनाथ मंदिर के दरवाजे पर लगी सील खोली

बद्रीनाथ धाम के कपाट खुलने से पहले आदिकेदारेशवर मंदिर के कपाट खुलते हैं। परंपरा के अनुसार सुबह पांच बजे से बद्रीनाथ मंदिर के कपाट खोलने की प्रक्रिया शुरू हुई, जिसके तहत 5 बजकर 20 मिनट पर पर वैदिक मंत्र उच्चारण शुरू हुए। इसके साथ ही जब रावल ने बद्रीनाथ मंदिर के द्वार दरवाजे पर लगी सील को खोला, उसी समय राज दरबार के प्रतिनिधि कांता प्रसाद नौटियाल ने मंदिर के मुख्य द्वार का दरवाजा खोला और सर्वप्रथम बद्रीनाथ के रावल और बतला बड़वा ने मंदिर के गर्भ गृह में प्रवेश किया।

यह भी पढ़ें : Kedarnath Dham : केदारनाथ धाम के कपाट खुले, शुरू हुई चार धाम की यात्रा

यह भी पढ़ें : Amarnath Yatra 2024 : इस बार 29 जून से शुरू होगी अमरनाथ यात्रा